NO COST EMI क्या है? - पुरी जानकारी हिंदी में

 आज हम जाने वाले हैं NO COST EMI क्या है? यह क्या होता है इसके द्वारा हम अपने प्रोडक्ट को कैसे बाय कर सकते हैं अगर आप भी फ्लिपकार्ट अमेजॉन पर ऑनलाइन शॉपिंग करना पसंद करते हैं तो यह ऑप्शन आपके लिए बेस्ट हो सकता है मान लीजिए अगर आप किसी प्रोडक्ट की शॉपिंग करनी चाहते हैं उस प्रोडक्ट का कोर्स काफी ज्यादा है तो उस समय आप एक ऑप्शन को सिलेक्ट कर सकते हैं वह है नो कॉस्ट ईएमआई इसके द्वारा आप प्रोडक्ट के पैसे कुछ किस्तों में जमा कर सकते हैं तो आज हम जानेंगे नो कॉस्ट ईएमआई क्या है तो चलिए फिर जानते हैं

NO COST EMI क्या है? - पुरी जानकारी हिंदी में

      आपने कहीं ना कहीं किसी प्रोडक्ट पर नो कॉस्ट ईएमआई का ऑप्शन तो देखा ही होगा जहां पर आपको महीने के हिसाब से पैसे चुकाने पड़ते हैं देखा जाए तो जो महंगे महंगे प्रोडक्ट होते हैं उन पर नो कॉस्ट ईएमआई का ऑप्शन आसानी से मिल जाता है जिसके द्वारा आप उस पर बहुत ही आसानी से खरीद सकते हैं और उसके पैसे किस्तों के द्वारा चुका सकते हैं जैसे मान लीजिए अगर आपको कोई मोबाइल खरीदना है उसका प्राइस 25000 है इस प्रोडक्ट को ऑफ ईएमआई के द्वारा खरीद सकते हैं

    वह अपने एक ईएमआई देखा होगा और एक होता है नो कॉस्ट ईएमआई इन दोनों को देखकर अक्सर ज्यादातर लोग कंफ्यूज हो जाते हैं कि इन दोनों ऑप्शन में क्या अंतर है और हमें कौन सा ऑप्शन सेलेक्ट करना चाहिए और कौन सा ऑप्शन हमारे लिए सबसे बढ़िया हो सकता है तो आज हम उसके बारे में आपको क्लियर कर देंगे जिसके द्वारा आप अपने हिसाब से उस ऑप्शन को सिलेक्ट करके ईएमआई के द्वारा प्रोडक्ट को पाए कर सकते हैं

NO COST EMI क्या है ? | और इसका इस्तेमाल कैसे करें 

नो कॉस्ट ईएमआई आपको एक ऐसी सुविधा देती है जिसके द्वारा आप कोई भी प्रोडक्ट बाय करते हो एग्जांपल के रूप में मान लेते हैं अगर आप कोई लैपटॉप बाय करते हो मान लीजिए उसका प्राइस है ₹60000 अगर हमारे पास इतने पैसे नहीं हैं तो हमें एक सुविधा मिलती है जिसका नाम है नो कॉस्ट ईएमआई इसके द्वारा आप लैपटॉप बाय कर सकते हो नो कॉस्ट ईएमआई के तहत आपको 60000 के साथ कोई ब्याज देना नहीं पड़ता यह ब्याज फ्री होता है इसी को हम नो कॉस्ट ईएमआई कहते हैं 

यानी जिस लैपटॉप को आप बाय कर रहे हो उसका प्राइस है ₹60000 उसमें ऑप्शन होता है तीन या 6 महीने में मैं किसको को जमा करना अगर आप 3 महीने का प्लान सिलेक्ट करते हो तो आपको ₹20000 पर मंथ जमा करना होगा जोकि डेबिट क्रेडिट कार्ड के थ्रू आपके कार्ड से काट लिए जाते हैं और हां नो कॉस्ट ईएमआई में आपको कोई भी ब्याज देने की जरूरत नहीं होती जितना प्राइस है आपके लैपटॉप का उतना ही प्राइस आपको 3 या 6 महीने में देना होता है

अब हम बात कर लेटे है साधारण EMI की इस EMI मैं आपको ब्याज देना पड़ता है इसे भी हम एग्जांपल के रूप में समझेंगे मान लीजिए हमने एक लैपटॉप बाय करा है जिसका प्राइस ₹60000 अगर हम इसको साधारण ईएमआई पर बाय करते हैं साधारण यह माई में एक बात अच्छी है बुरी अब जो समझे रहे हैं साधारण एमआई में आपको काफी समय मिलता है किस्तों को जमा कर देना यानी आप 1 साल या 2 साल में भी किस्तों को जमा कर सकते हैं पर महीने के हिसाब से यानी 60000 का आपका लैपटॉप है अगर आप उसको 6 महीनों में किस्तों के द्वारा छुपाना चाहते हैं तो आपको हर महीने ₹10000 और उसके साथ कुछ ब्याज जुड़ जाएगा दोनों को मिलाकर आपको हर महीने देने होंगे वह आपको प्रोडक्ट में ही पता चलेगा कि कितना ब्याज लगेगा 

EMI या No Cost EMI दोनो में से कोनसा बढ़िया है ? 

  • अगर सबसे पहले बात करें EMI की तो इसमें आपको ब्याज देना पड़ता है 
  • अगर वही बात करें No Cost EMI की तो इसमें आपको कोई भी ब्याज देना नही पड़ता है 
  • EMI में अपको ज्यादा Months मिलते हैं किस्तों में जमा करने में 12 से 24 month's लेकिन अगर आप जितने महिने बढ़ोगे उतना ही ब्याज ज्यादा हो जाता है 
  • अगर वही बात करें No Cost EMI कि तो इसमें आपको 3 से 6 Month's मिलते हैं किस्तों को जमा करने में इसमें आप 3 महिने या 6 महिने का प्लान सिलेक्ट करें अपको कोइ ब्याज देना नहीं होता जितना प्रॉडक्ट का प्राइज होता है उतना ही देना पड़ता है 

 Conclusion : 

 NO COST EMI क्या है? - पुरी जानकारी हिंदी में पोस्ट कैसी लगी कॉमेंट में जरुर लिख कर बताए अगर आपका कोई सवाल है NO COST EMI क्या है? से रिलेटेड तो आप कॉमेंट में पूछ सकते है ऐसी ही जानकारी पाने के लिए बने रहे हमारे ब्लॉग के साथ जहा पर आपको internet technology से रिलेटेड आर्टिकल्स रोजाना मिलती रहते हैं 

एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने